Roar for Tigers

गांव में घुसे बाघ ने किया हमला, फायरिंग कर भगाया

गांव में घुसे बाघ ने किया हमला, फायरिंग कर भगाया

Dec 26, 2013

पीलीभीत में जोगराजपुर के जंगल से जलौनी लकड़ी लाने गए ग्रामीण को बाघ ने हमलाकर घायल कर दिया। गंभीर रूप से घायल व्यक्ति को उपचार के लिए पीलीभीत ले जाया गया है। बुधवार सुबह सेहरामऊ थाना क्षेत्र के ग्राम पटिहन निवासी सियाराम (40) पुत्र रामलाल गांव के अन्य लोगों के साथ खुटार रेंज के जंगल से जलौनी लकड़ी बीनने गया था। जंगल में उसके साथ गए लोग अलग होकर लकड़ी बीन रहे हैं। इसी बीच झाड़ियों से निकले बाघ ने सियाराम पर हमलाकर दिया। हमले के दौरान उसके सिर, हाथ कंधों पर गहरे जख्म हो गए। हमले के बाद बाघ भी भाग गया। बाघ की दहाड़ व सियाराम की चीख-पुकार सुनकर अन्य साथी उसके करीब पहुंच गए तथा घायल सियाराम को घर लाए। घायल सियाराम को उसके परिजन जब घर लेकर पहुंचे तब उसे देखने को भारी भीड़ लग गई। गंभीर रूप से घायल सियाराम को उसके परिजन इलाज के लिए पूरनपुर सीएचसी लेकर पहुंचे। वहीं दूसरी तरफ पीलीभीत के ही दियोरिया गांव के अंदर घुस आए बाघ से ग्रामीणों में घंटों हड़कंप मचा रहा। ग्रामीणों ने हवाई फायरिंग कर व ढोल नगाड़े बजाकर बाघ को बमुश्किल गांव से भगाया। बीती रात दियोरिया जंगल में नीलगाय का वध करने के लिए उसका पीछा करता हुआ बाघ गांव के रहीस खां के मुर्गी फार्म तक आ पहुंचा। उसे देखते ही मुर्गी फार्म मालिक के होश उड़ गए और वह गांव के अंदर भाग आया। थोड़ी ही देर में बड़ी संख्या में ग्रामीण एकत्र हो गए और उन्होंने हवाई फायरिंग कर व ढोल नगाड़े बजाकर बमुश्किल बाघ को जंगल की ओर भगाया। सूचना मिलते ही वन क्षेत्राधिकारी मोहम्मद शहनियाल भी मौके पर पहुंच गए। इन दिनों पीलीभीत के गांवों में बाघों का खौफ गांववालों को रह रह कर सता रहा है, जिला प्रशासन अपनी तरफ से पूरी कोशिश में तो लगा है कि बाघों से ग्रामीणों की रक्षा की जा सके लेकिन प्रयास इतने कारगर साबित नहीं हो पा रहे।

As Posted in Jagran.com

468 ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *