Roar for Tigers

पीलीभीत की माला कालोनी में दिखे तीन शावक

पीलीभीत की माला कालोनी में दिखे तीन शावक

Feb 26, 2014

पीलीभीत: माला कालोनी स्थित एक खेत में मादा तेंदुआ के तीन शावक देखे जाने पर वहां अफरातफरी मच गई। सूचना मिलते ही वन विभाग, सामाजिक वानिकी एवं विश्व प्रकृति निधि की टीम मौके पर पहुंच गई है। शावक काफी छोटे हैं, इसलिए संभावना जताई जा रही है कि मादा तेंदुआ कहीं आसपास ही मौजूद है। ऐसे में मौके से लोगों को हटाया जा रहा है। जिससे शावक सुरक्षित रहें और मादा तेंदुआ उन्हें लेकर जंगल में लौट सके। पीलीभीत-पूरनपुर रेल खंड पर माला स्टेशन के निकट ही बंगाली समुदाय के लोगों की कालोनी है। इस कालोनी से तकरीबन चार सौ मीटर दूर ही जंगल है। मंगलवार को अपराह्न कालोनी के कुछ लोग खेतों पर गए तो वहां गन्ने के खेत में तेंदुआ के तीन शावक दिखे। इसकी सूचना पूरी कालोनी में फैल गई। लोग शावकों को देखने के लिए गन्ने के खेत पर पहुंचने लगे। कुछ ही देर में वन विभाग को भी इसकी सूचना मिल गई। तब आनन-फानन में वन विभाग, सामाजिक वानिकी एवं विश्व प्रकृति निधि की टीमें मौके पर पहुंच गईं। वन विभाग के लोगों का अनुमान है कि जब तीनों शावक गन्ने के खेत में हैं तो मादा तेंदुआ भी कहीं आसपास ही होगी। विश्व प्रकृति निधि के परियोजना अधिकारी नरेश कुमार के अनुसार शावकों को देखकर लगता है कि चार-पांच दिन पहले ही उनका जन्म हुआ है। शावकों को सुरक्षित बचाने के लिए मौके से लोगों को हटाया जा रहा है। अगर लोगों ने शावकों को छू लिया तो फिर इसकी गंध लगने के बाद मादा तेंदुआ इन्हें छोड़ देगी। इसलिए शावकों की सुरक्षा पहली प्राथमिकता है। मौके पर किसी को नहीं रुकने दिया जाएगा। टीम काफी दूर से ही निगरानी करेगी। उम्मीद है कि मादा तेंदुआ जल्द ही वहां से तीनों शावकों को अपने साथ ले जाएगी।

468 ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *