Roar for Tigers

पीलीभीत टाइगर रिज़र्व के ‘सप्तसरोवर’ पर झलकेगा कैम्टीफाल सा नज़ारा

पीलीभीत टाइगर रिज़र्व के ‘सप्तसरोवर’ पर झलकेगा कैम्टीफाल सा नज़ारा

Jan 2, 2016

प्रकृति का आनंद उठाने के लिए पीलीभीत टाइगर रिजर्व में ढेरों पर्यटन स्थल हैं, जहां पर परिवार समेत प्रकृति की गोद में आनंद उठाया जा सकता है। यहां हर साल हजारों टूरिस्ट जंगल का आनंद उठाने आते हैं। टाइगर रिजर्व के घनघोर जंगल में स्थित ईको टूरिज्म स्पॉट सप्तसरोवर जल्द ही नए लुक में नजर आएगा। इसके लिए टाइगर रिजर्व ने प्रयास शुरू कर दिए हैं, जिस पर जल्द ही मुहर लगने की उम्मीद है। इससे टूरिस्टों को जंगल भ्रमण में आनंद आएगा।

हिमालय की तलहटी के पीलीभीत टाइगर रिजर्व में अकूत वन संपदा है, जहां पर लुप्तप्राय बाघ समेत कई वन्यजीव विचरण करते हैं। ब्रिटिशकाल में बराही रेंज में सात झाल का निर्माण कराया गया था, जहां से अतिरिक्त पानी का प्रवाह होता था। समय बदलने के बाद साल झाल का प्रयोग होना बंद हो गया। दो साल पहले सप्तसरोवर को विकसित करने के प्रयास शुरू किए गए, जहां पर रोशनी के लिए कई सोलर लाइटें लगवाई गई। टूरिस्टों के ठहरने के लिए दो हट्स बनवाई गई, जहां पर टूरिस्ट प्रकृति की गोद में रहकर आनंद उठा रहे हैं। घनघोर जंगल में होने की वजह से सप्तसरोवर टूरिस्ट नहीं पहुंच पा रहे हैं। अब ईको टूरिज्म स्पॉट सप्तसरोवर को नए लुक में लाने के लिए प्रयास तेज कर दिए गए हैं। आने वाले नए साल में टूरिस्टों को बेहतर सुविधाएं मिल सकेगी। सप्तसरोवर के ऊपर से पानी प्रवाहित किया जाएगा, तो कैम्टी फाल की भांति गिरेगा। इससे टूरिस्ट काफी लुत्फ उठा पाएंगे। अभी तक सप्तसरोवर तक पहुंचने के लिए टूरिस्टों को काफी मशक्कत करनी पड़ती है। टाइगर रिजर्व के प्रभागीय वनाधिकारी कैलाश प्रकाश का कहना है कि सप्तसरोवर को आम बोलचाल की भाषा में सातझाल कहते हैं।

10526092_293480934184044_3107946096433552342_n

34 लाख का प्रस्ताव जिला प्रशासन को भेजा

बीएडीपी योजना में सप्तसरोवर को विकसित करने के लिए 34.35 लाख का प्रस्ताव जिला प्रशासन को भेजा जा चुका है। प्रस्ताव मंजूर होने के बाद सप्तसरोवर पर सौंदर्यीकरण के कार्य कराए जाएंगे। सोलर पंप से सप्तसरोवर से पानी छोड़ा जाएगा, जो कल कल करते हुए नीचे गिरेगा। जहां पर कलरफुल लाइटें लगवाई जाएंगी। सोलर पंप व सोलर लाइटें भी लगेगी, जो सप्तसरोवर में चार चांद लगाएंगी।

ऐसे होगा सुंदरीकरण कार्य

बराही रेंज के ईको टूरिज्म स्पॉट सप्तसरोवर के सौंदर्यीकरण कार्य कराने के प्रयास किए जा रहे हैं। सौंदर्यीकरण में सप्तसरोवर की साफ-सफाई व मरम्मत कार्य, डबल स्टोरी गोल बंगला निर्माण, लॉग हट का निर्माण, पि¨चग कार्य, कैंटीन निर्माण का कार्य कराया जाएगा। वर्तमान समय में दो हट्स टूरिस्टों के लिए उपलब्ध हैं।

As posted in Jagran.com
468 ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *