Roar for Tigers

पर्यटकों के लिए खुल गया पीलीभीत टाइगर रिजर्व का चूका बीच

पर्यटकों के लिए खुल गया पीलीभीत टाइगर रिजर्व का चूका बीच

Nov 14, 2014

पीलीभीत : तराई का गोवा कहे जाने वाला पीलीभीत टाइगर रिजर्व का चूका पिकनिक स्पॉट आज से नए रंग रूप के साथ सैलानियों के लिए खुल रहा है। इस बार इस पर्यटक स्थल को लोकप्रिय बनाने के लिए कम मूल्य पर ही जंगल की सैर का आनंद देने का प्लान किया गया है। विशाल जलाशय में ठहरे प्रवासी पक्षियों का कलरव लोगों को नई अनुभूति प्रदान करेगा। पहली बार टाइगर रिजर्व के रूप में सैलानियों का स्वागत करने के लिए महकमें ने होमवर्क पूरा कर लिया है।

सरकार द्वारा पीलीभीत के जंगल को टाइगर रिजर्व घोषित किया गया था। टाइगर रिजर्व बनने से इसमें चार चांद लग गए हैं। जंगल में स्वछंद घूमते हिरन के झुंड बाघों की दहाड़, पक्षियों का कलरव, भालू की चहलकदमी के अलावा अन्य बहुत से वन्यजीवों को सैलानी प्रकृति को करीब से निहार सकेंगे। इसके अलावा एशिया के सबसे बड़े कच्चे शारदा सागर डाम में पानी के बीच बनी वाटर हट, 25 फिट ऊंचे पेड़ों पर बनी ट्री हट के अलावा अन्य खूबसूरत स्थानों पर ठहरने के लिए विभाग ने व्यवस्था की है। चूका के नैसर्गिग आनंद को उठाने के लिए इस बार पर्यटकों की जेब पर बोझ भी कम डाला गया है। शनिवार से सैलानियों के लिए खुल रहे चूका के लिए बु¨कग भी हो चुकी है।

घटे दर पर ले सकेंगे आनंद

पूरनपुर : जंगल में आने वाले सैलानियों के लिए जो मूल्य तय किए गए हैं वह गत वर्ष की अपेक्षा कम कर दिए गए हैं। थारू हट के लिए भारतीयों के लिए 1000 तो विदेशी मेहमानों के लिए 2000, ट्री हट भारतीयों के लिए 1500 और विदेशी के लिए 3000, बंबो हट में भारतीय 2000 और विदेशी सैलानियों को 4000 रुपये देने होंगे।

safe_image

ऐसे होगी चूका में इंट्री

पूरनपुर: चूका में प्रवेश के लिए मुख्य गेट से इंट्री की जाएगी। इसमें चार पहिया छोटे वाहन के लिए 300, बाइक के लिए 50 रुपए, ट्रेवल बस के लिए 1000 और मिनी बस के लिए 800 रुपया देना होगा। इसके अलावा जंगल में भ्रमण के लिए प्रति व्यक्ति 100 रुपए शुल्क रखा गया है।

इस तरह पहुंचे टाइगर रिजर्व

पूरनपुर: चूका और टाइगर रिजर्व में प्रवेश के लिए बरेली से आने वाले पर्यटक माधोटांडा होते हुए, खटीमा और पहाड़ी इलाके के लोग मैनाकोट के रास्ते तथा लखनऊ या फिर पूर्वी क्षेत्र के पर्यटक पूरनपुर से खटीमा रोड़ पर आकर यहां आ सकते है।

आनलाइन नहीं, फोन पर होगी बुकिंग

इस बार टाइगर रिजर्व के लिए आनलाइन बु¨कग की सुविधा नहीं है। पर्यटक पीलीभीत डीएफओ कार्यालय के फोन नंबर 05882-259688 पर बुक करा सकते हैं।

रास्ता खराब और खाली हाथ वन विभाग

पूरनपुर: टाइगर रिजर्व एवं चूका आने वालों को कई तरह के अवरोधों से भी दो चार होना पड़ेगा। जहां जंगल पहुंचने के सारे रास्ते खराब हैं वहीं वन विभाग के पास कोई संसाधन नहीं हैं। पर्यटकों को घुमाने के लिए हाथी, जिप्सी आदि कुछ न होने की दिक्कत होगी तो पर्यटकों की सुरक्षा भी भगवान भरोसे होगी।

पीलीभीत टाइगर रिज़र्व के प्रभागीय वनाधिकारी कैलाश प्रकाश के मुताबिक पीलीभीत टाइगर रिजर्व को इस बार नए लुक के साथ पर्यटकों के लिए खोला जा रहा है। कई तरह की हट और देखने योग्य जंगल के स्थानों को भी आकर्षक रूप दिया गया है। कुछ सुविधाओं पर अभी निर्णय नहीं हो सका है। मंथन चल रहा है। शीघ्र ही चेक पोस्ट घोषित करेंगे।

 

 

 

As posted in Jagran.com

468 ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *