Roar for Tigers

ज़िले में ही बनाया जाएगा टाइगर रिजर्व का लोगो

ज़िले में ही बनाया जाएगा टाइगर रिजर्व का लोगो

Oct 4, 2014

पीलीभीत। जनपदवासी टाइगर रिजर्व का लोगो खुद तैयार करेंगे। डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के सहयोग से टाइगर रिजर्व का लोगो डिजाइन करने के लिए जिले के निवासियों से आह्वान किया गया है। सर्वश्रेष्ठ डिजाइन को टाइगर रिजर्व का लोगो घोषित किया जाएगा। इसके लिए विभिन्न स्थानों पर प्रतियोगिताएं भी आयोजित कराई जाएंगी।
पीलीभीत के जंगल में बाघों की संख्या को देखते हुए इसे टाइगर रिजर्व बनाने की मांग की जा रही थी। नौ जून 2014 को इसकी घोषणा के साथ ही जनपदवासियों की मुराद पूरी हुई थी, लेकिन टाइगर रिजर्व घोषित होने के चार माह बीतने के बाद भी इसका लोगो डिजाइन नहीं किया जा सका है।
86555722
इसके लिए डब्ल्यूडब्ल्यूएफ और टाइगर रिजर्व के डीएफओ कैलाश प्रकाश ने बुधवार से शुरू हुए वन्यजीव सप्ताह के तहत विभिन्न तिथियों व स्थानों पर आयोजित होने वाली कला और पर्यावरण संरक्षण संबंधी प्रतियोगिता के प्रतिभागियों से इसका लोगो भी डिजाइन करने का आह्वान किया है। डीएफओ ने बताया कि कोई भी व्यक्ति पीलीभीत टाइगर रिजर्व का लोगो डिजाइन कर कार्यालय में जमा कर सकता है। प्राप्त डिजाइन में तीन श्रेष्ठ लोगो का चयन कर डिजाइन करने वाले को पुरस्कृत किया जाएगा और इनमें सर्वश्रेष्ठ लोगो को टाइगर रिजर्व के लोगो के रूप में मान्यता दी जाएगी। उन्होंने बताया कि लोगो की डिजाइन 15 अक्तूबर तक उनके कार्यालय में सीधे अथवा डाक के माध्यम से भी भेजी जा सकती है।
As posted in Amarujala.com
468 ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *