Roar for Tigers

नीलगिरी का आदमखोर बाघ मारा गया

नीलगिरी का आदमखोर बाघ मारा गया

Jan 23, 2014

भारत के दक्षिणी राज्य तमिलनाडु के मशहूर हिल स्टेशन ऊटी में उत्पात मचाने वाला आदमखोर बाघ बुधवार को आख़िरकार शिकारियों के हाथ चढ़ गया और उसे मार गिराया गया है. इस साल जनवरी के पहले पखवाड़े में दस दिन के भीतर तीन महिलाओं की जान लेने वाले इस आदमखोर बाघ की तलाश में वन-विभाग के 150 कर्मचारी हाथ में बंदूक लिए किसी शिकारी की तरह उसे तलाश कर रहे थे. नीलगिरी ज़िला कलेक्टर कार्यालय के एक अधिकारी ने बीबीसी को बताया, ”कलेक्टर और वन विभाग के अधिकारी जंगल के भीतर है. बाघ गोली लगने के बाद मर गया है.”उन्होंने बताया, ”बाघ के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है. बाघ को बेहोश नहीं किया गया था.” इस बाघ की दहशत का आलम ये था कि आसपास के गांवों में उसकी तलाश के लिए 65 कैमरे लगाए गए थे. लोग शाम के वक्त घरों से बाहर निकलने से डरने लगे थे और आशंका को ध्यान में रखते हुए लगभग 45 स्कूलों में छुट्टी की घोषणा करनी पड़ी थी.

इस आदमखोर बाघ को तीन दिन पहले इलाके के कुडाची गांव में एक लड़के ने देखा था और बाद में यह बाघ वहां से भाग निकला था.

इस बाघ के आतंक से क़रीब 12 हज़ार लोग प्रभावित हुए. यह इलाका ऊंटी से करीब 14 किमी की दूरी पर स्थित है. कुंदसप्पी, तुमलाहट्टी और बत्तराकोम्बई कुछ और ऐसे इलाक़े थे जहां इस बाघ का आतंक था.

As posted in www.bbc.co.uk

468 ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *