Roar for Tigers

अब एलईडी से रोशन होंगी पीलीभीत टाइगर रिजर्व की ‘हट’

अब एलईडी से रोशन होंगी पीलीभीत टाइगर रिजर्व की ‘हट’

Dec 3, 2015

पीलीभीत : अब पीलीभीत टाइगर रिजर्व की चूकाबीच ईको टूरिज्म स्पॉट पर बनी हट में एलईडी बल्ब की सुविधा मिल सकेगी, जिससे टूरिस्टों को रात के समय रोशनी की दिक्कत नहीं होगी। एक बार चार्ज करने के बाद कई घंटे तक हट रोशन रहेगी। इस दिशा में टाइगर रिजर्व प्रशासन ने कवायद शुरू कर दी है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने नौ जून 2014 को पीलीभीत जंगल को टाइगर रिजर्व का दर्जा दिया था। इससे पहले पीलीभीत वन्यजीव विहार था। टाइगर रिजर्व बनने के बाद जंगल में सुविधाएं देने का काम शुरू हो गया, जिससे पर्यटकों को सैर सपाटे में काफी सहूलियतें हो गई। टाइगर रिजर्व की महोफ रेंज के चूका बीच ईको टूरिज्म स्पाट पर पर्यटन सीजन में हजारों की संख्या में टूरिस्ट सैर सपाटे को आते हैं। चूकाबीच पर चार थारू हट, एक अरण्य विहार, एक वॉटर हट, एक ट्री हट आदि स्थित हैं। रात के समय हट में सौर ऊर्जा से उजाला की सुविधा दी गई है, जिसमें उजाला काफी कम होता है। इससे टूरिस्ट को बेहतर उजाला भी नहीं मिल पाता है। अब टाइगर रिजर्व प्रशासन ने चूकाबीच ईको टूरिज्म स्पॉट पर बनी हट में एलईडी बल्ब लगवाने का निर्णय लिया है। पीलीभीत टाइगर रिजर्व के क्षेत्रीय वनाधिकारी केपी सिंह कहते हैं कि हट में एलईडी बल्ब लगने से रोशनी अच्छी होगी और काफी देर तक रोशनी रहेगी।

led-outdoor-kent-town-home-decor-retailers-3w-led-spike-lights-throughout-garden-and-bali-hut--6187-938x704

टाइगर रिजर्व में ये हैं घूमने के प्वाइंट

पीलीभीत टाइगर रिजर्व के जंगल में सैर सपाटे के लिए कई प्वाइंट हैं, जहां पर परिवार सहित घूमकर प्राकृतिक सुंदरता का आनंद लिया जा सकता है। महोफ रेंज के चूकाबीच, बराही रेंज के सेल्हा बाबा, बाइफरकेशन में नहरों का जंक्शन, ईको टूरिज्म स्पाट सप्त सरोवर, माला रेंज के सिद्धबाबा, हनुमान मंदिर आदि स्थानों पर घूमकर प्राकृतिक सुंदरता को नजदीकी से देखा जा सकता है।

टाइगर रिजर्व में ये हैं गेस्ट हाउस

-चूका बीच अरण्य विहार

-मुस्तफाबाद वन अतिथि गृह

-बराही वन अतिथि गृह

-गढ़ा वन अतिथि गृह

-महोफ वन अतिथि गृह

-नवदिया वन अतिथि गृह

468 ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *