Roar for Tigers

माला कॉलोनी में फिर तेंदुए की दस्तक से फैली दहशत

माला कॉलोनी में फिर तेंदुए की दस्तक से फैली दहशत

Jul 1, 2015

पीलीभीत। अभी माला कालोनी के बाशिंदे चार दिन पहले किसान समीर पोद्दार की मां पर हुए तेंदुए के हमले को भुला नहीं सके थे कि उनके सामने दुबारा वही स्थिति बन गई। देर रात एक दूसरा तेंदुआ दो बच्चों के साथ गांव में घूमता दिखाई दिया। जिसने एक पालतू जानवर को शिकार बनाने की कोशिश भी की। इसकी भनक लगने के बाद दहशत के साए में ग्रामीणों ने बचाव का रास्ता अपनाया। गांव वालों ने एकजुट होकर तेंदुए को जंगल की ओर दौड़ा दिया। इसकी सूचना वनविभाग के अधिकारियों को दी गई। इस पर विभागीय टीम ने गांव पहुंचकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

– सोमवार रात दो शावकों संग घूमता दिखा तेंदुआ
– ग्रामीणों ने एकत्र होकर जंगल की ओर दौड़ाया, वनविभाग को दी सूचना

पीलीभीत टाइगर रिजर्व से सटी माला कॉलोनी में सोमवार रात एक बार फिर तेंदुए की दस्तक से दहशत फैल गई। देर रात करीब बारह बजे तेंदुए के दहाड़ने की आवाज सुनाई दी। दहाड़ सुनकर ग्रामीण घरों से बाहर निकले और एक जगह पर इकठ्ठा हो गए। इसके बाद तेंदुए को तलाशना शुरू कर दिया। कुछ ही देर में एक तेंदुआ दो बच्चों के साथ घूमता नजर आया। यह दृष्य देख माला कॉलोनी के लोग पसीना पसीना हो गए। चार दिन पुराना मंजर नजरों के सामने आ गया। इस बीच गांव के निवासी जगदीश ने आकर बताया कि उसके मकान के बाहर बंधे बछड़े पर तेंदुआ अभी-अभी हमला कर चुका है। जिसे सुनकर ग्रामीणों ने वनविभाग के अधिकारियों को सूचना दी।

-File Photo

इसके बाद एकत्र लोगों ने अपना बचाव करने के लिए शोर मचाकर तेंदुए को खदेड़कर जंगल की ओर दौड़ाना शुरू कर दिया। कुछ ही देर में माला रेंज के वनक्षेत्राधिकारी डीके सिंह टीम के साथ गांव पहुंच गए। एकत्र लोगों से बातचीत कर तेंदुए के बारे में जानकारी की गई। घटना के बाद से गांव में तेंदुए की दहशत बरकरार है। बच्चे साथ होने से दूसरे तेंदुए के मादा होने की संभावना जताई जा रही है। साथ ही कालोनी के लोगों के मन में सवाल है कि दुबारा दिखाई दिया तेंदुआ कहीं चार दिन पहले कालोनी से पकड़कर लखनऊ भेजे गए तेंदुए का परिवार तो नहीं। हालांकि वनविभाग की टीम गांव में जांच पड़ताल कर पता लगाने में जुटी हुई है।

 

 

 

-मुख्य संवाददाता वैभव  शुक्ला की रिपोर्ट

468 ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *