Roar for Tigers

सीसीएफ ने पीलीभीत टाइगर रिज़र्व में बाघ मौत मामले की जानी प्रगति

सीसीएफ ने पीलीभीत टाइगर रिज़र्व में बाघ मौत मामले की जानी प्रगति

May 4, 2015

पीलीभीत : रुहेलखंड जोन के मुख्य वनसंरक्षक ने पीलीभीत टाइगर रिजर्व की बराही रेंज में मृत मिले बाघ मामले में चल रही जांच की प्रगति के मामले में जानकारी हासिल की है। डीएफओ को जंगल में डे-नाइट गश्त में तेजी लाने के निर्देश दिए गए।पीलीभीत टाइगर रिजर्व की बराही रेंज में प्रवाहित हो रही हरदोई ब्रांच नहर से 23 अप्रैल को बाघ का शव बरामद किया गया था, जिसके सभी अंग सुरक्षित पाए गए थे। बाघ के शव का आइवीआरआइ बरेली में पोस्टमार्टम कराया गया, लेकिन अभी तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आ पाई है। इस वजह से वन अफसर कुछ कहने से बच रहे हैं। शनिवार को रुहेलखंड जोन के मुख्य वन संरक्षक एमपी सिंह ने टाइगर रिजर्व के प्रभागीय वनाधिकारी कैलाश प्रकाश से बाघ हत्या जांच मामले की प्रगति जानी। उन्होंने बाघ शव के पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बारे में भी मालुमात की। मुख्य वन संरक्षक ने जंगल में डे-नाइट पेट्रोलिंग बढ़ाने के कड़े निर्देश दिए। प्रत्येक बीट व कंपार्टमेंट में पेट्रोलिंग की जाए, जिससे शिकारियों पर पैनी नजर रखी जा सकेगी। प्रभागीय वनाधिकारी ने बताया कि मुख्य वन संरक्षक को बाघ मामले की पूरी जानकारी दे दी गई। जंगल में फील्ड स्टाफ को पहले ही सतर्क किया जा चुका है।

जंगल के अंदर है लोगों का दखल

पीलीभीत टाइगर रिजर्व बनने के बाद जंगल के अंदर चोरी छिपे लकड़ी कटान बंद नहीं हुआ है। ट्रेन व साइकिलों से शहर में लकड़ी बिकने के लिए धड़ल्ले से आ रही है, लेकिन वन विभाग कोई कार्रवाई करने की जुर्रत नहीं जुटा पा रहा है। इसी वजह से लकड़ी बेचने वालों के हौंसले बढ़ते जा रहे हैं। हर दिन हजारों क्विंटल लकड़ी बिक जाती है।

टाइगर रिजर्व से मिट्टी का अवैध खनन

माधोटांडा (पूरनपुर): टाइगर रिजर्व में कहने को तो इस समय बाघ गणना चल रही है और कागजों में लोगों का जंगल में प्रवेश पूरी तरह से प्रतिबंधित किया गया है लेकिन आपको यह जानकर हैरत होगी कि लोग जंगल में प्रवेश ही नहीं कर रहे हैं वरन जंगल में अवैध खनन करके वन संपदा को नुकसान भी पहुंचा रहे हैं। 1हरीपुर और बराही वन रेंजों में बाघ गणना का काम चल रहा है। जंगल में कैमरे लगाए गए हैं और टीमें निगरानी में लगी हैं। ऐसे में भी लोग जंगल में धड़ल्ले से प्रवेश कर रहे हैं। वर्तमान समय में बराही वन रेंज में पड़ने वाली नौजल्हा वन चौकी क्षेत्र के महराजपुर के पास के जंगल से मिट्टी का खनन जोरों पर चल रहा है। 1लोग डनलप व ट्रालियों से मिट्टी भरकर खुलेआम ले जा रहे हैं। इसे रोकने की जरूरत कोई भी महसूस नहीं कर रहा है। इस संबंध में चौकी के वनरक्षक रामबहादुर ने बताया कि अवैध खनन की उन्हें कोई जानकारी नहीं है। ऐसा है तो जांच करके कार्रवाई कराई जाएगी।

 

 

As posted in Jagran.com

468 ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *