Roar for Tigers

पीलीभीत में बाघों की गणना के लिए लगाए गए कैमरे चोरी !

पीलीभीत में बाघों की गणना के लिए लगाए गए कैमरे चोरी !

May 15, 2014

पीलीभीत : पीलीभीत के जंगलों में तस्करों और शिकारियों का रैकेट इतना बड़ा है कि उन्हें ना तो कोई पकड़ सकता है और ना ही उनके खिलाफ कोई कार्रवाई हो सकती है। और तो और वो विभागीय कामकाजों में किस तरह अड़ंगा लगाते हैं इसका उदाहरण भी देखने को मिल गया। बाघ गणना के लिए विश्व प्रकृति निधि की ओर से माला रेंज लगे दो कैमरों को चोरी कर लिया गया। हालांकि डीएफओ के निर्देश पर रेंजर ने थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी है। इसके साथ ही मामले की विभागीय जांच भी शुरू हो गई है। लेकिन इस चोरी के क्या मतलब निकालें जाएं ये सोचनीय विषय है। आपको बता दें विश्व प्रकृति निधि ने महोफ, माला एवं दियोरिया रेंज में दो सौ लेजर कैमरे लगाकर पिछले हफ्ते से बाघों की गणना शुरू की थी। पिछली बार की गणना के दौरान दो कैमरे चोरी होने के कारण इस बार कैमरों की सुरक्षा की जिम्मेदारी संबंधित बीट के वन कर्मियों को सौंपी गई थी। इसके बावजूद गत दिवस माला रेंज की लालपुर बीट क्षेत्र में एक स्थान पर लगे दो कैमरे चोरी हो गए। इसका पता चलते ही वन विभाग में हड़कंप मच गया।

विश्व प्रकृति निधि के परियोजना अधिकारी नरेश कुमार ने बताया कि डीएफओ से जांच कराने का अनुरोध किया है। डीएफओ राजीव मिश्रा ने बताया कि दो कैमरे चोरी की रिपोर्ट गजरौला थाने में दर्ज करा दी गई है। साथ ही पूरे मामले की विभागीय जांच भी कराई जा रही है। डीएफओ ने बताया कि विश्व प्रकृति निधि की टीम ने कैमरों का ब्योरा भी मांगा है, जिससे सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई जा सके।

468 ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *