Roar for Tigers

पीलीभीत टाइगर रिज़र्व में फिर मरे दो चीतल

पीलीभीत टाइगर रिज़र्व में फिर मरे दो चीतल

May 11, 2015

पीलीभीत : पीलीभीत टाइगर रिजर्व में बाघ का शव बरामद होने के बाद अब उसी स्थान के करीब दो चीतलों के शव बरामद किए गए हैं। शव होने की सूचना जब टाइगर रिजर्व प्रशासन को हुई तो अधिकारियों के होश उड़ गए। आननफानन में वनकर्मियों ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। पीलीभीत टाइगर रिजर्व में हरदोई ब्रांच नहर के किनारे वाइफरकेशन रोड पर गत माह एक बाघ का शव बरामद किया गया था। उसी स्थान के करीब रविवार की सुबह कुछ लोगों ने दो चीतलों के शव नहर में बहते देखे। इसकी सूचना जब वनकर्मियों को हुई तो हड़कंप मच गया। वनकर्मियों ने मौके पर पहुंचकर नहर से चीतलों के शवों को बाहर निकाला। शव की जांच पड़ताल करने के बाद पोस्टमार्टम के लिए आईवीआरआई बरेली भेज दिया गया है। वनाधिकारी चीतलों की मौत पानी में डूबने से होने की आशंका जता रहे हैं। रेंजर का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मौत की सही जानकारी मिल सकेगी। उधर प्रत्यक्षदर्शियों का मानना है कि चीतलों की शिकारियों द्वारा हत्या की गई है।

-Deers found dead in Pilibhit Tiger Reserve

 

पहले भी अलग-अलग क्षेत्रों से बरामद हो चुके हैं शव

पूरनपुर: हरदोई ब्रांच नहर के किनारे दो चीतलों के शव बरामद होने का मामला वनकर्मियों के शायद अब नया नहीं रहा है। इससे पूर्व भी शिवनगर, लालपुर, संडई, शाही, माला में चीतलों के शव बरामद किए जा चुके हैं। हरीपुर रेंज की खिरकिया बरगदिया से भी चीतल का शव बरामद किया गया था। शिकारियों ने चीतल को धारदार हथियार से मारा था। लगातार हो रही घटनाओं से भी टाइगर रिजर्व प्रशासन नहीं चेता है। वन्यजीवों की सुरक्षा के लिए किए जा दावों की पोल भी खुलती नजर आ रही है। इन घटनाओं से वन्यजीव प्रेमियों में रोष है।

 

 

As posted in Jagran.com

468 ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *