Roar for Tigers

पीलीभीत टाइगर रिज़र्व के अमरिया क्षेत्र में लगाए जा रहे हैं लेज़र कैमरे

पीलीभीत टाइगर रिज़र्व के अमरिया क्षेत्र में लगाए जा रहे हैं लेज़र कैमरे

Sep 22, 2015

पीलीभीत : अमरिया ब्लाक क्षेत्र में चार सालों से स्वच्छंद विचरण कर रहे टाइगर परिवार की निगेहबानी करने के लिए लेजर कैमरे लगाने का काम तेज गति से किया जा रहा है, जो अतिशीघ्र पूरा कर लिया जाएगा। लेजर कैमरों के माध्यम से टाइगर परिवार की लोकेशन पर नजर रखी जाएगी। कैमरा लगाने का काम डब्ल्यूडब्ल्यूएफ वन विभाग के साथ कर रहा है।

वन विभाग के अमरिया क्षेत्र में वर्ष 2012 में बाघ-बाघिन तीन बच्चों के साथ घूमती पाई गई। ये बाघ परिवार शुक्ला फार्म, पैरी फार्म आदि स्थानों पर घूमता रहा, जिससे गांवों के लोगों में दहशत का माहौल रहा। बाघ परिवार को जंगल में खदेड़ने के लिए डब्ल्यूटीआई का सहयोग लिया गया। मगर कोई सफलता नहीं मिली। बाघ परिवार में से बाघिन मौजूदा समय में कानपुर की कटरी में स्वच्छंद रूप से विचरण कर रही है। यहां पर बाघ के साथ दो बच्चे देखे जा रहे हैं। बाघ परिवार का कोई ठिकाना नहीं है, जिससे ग्रामीणों में दहशत का माहौल है।

camera

दहशत का माहौल समाप्त करने के लिए अमरिया क्षेत्र के तलहटी वाले इलाके में लेजर कैमरा लगाने का काम किया जा रहा है। अब तक दस कैमरे लगाए जा चुके हैं। विश्व प्रकृति निधि के परियोजना अधिकारी नरेश कुमार ने बताया कि ग्रामीणों की शंकाओं का समाधान करने के लिए लेजर कैमरे लगाए जा रहे हैं, जिससे बाघ परिवार की गतिविधि पर आसानी से निगाह रखी जा सकेगी। लेजर कैमरे लगाने का काम जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा।

 

 

As posted in Jagran.com

468 ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *